♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

नेपाल के पोखरा में येति एयरलाइन्स का जहाज दुर्घटनाग्रस्त, अभी तक 68 लोगों की मौत

Kathmandu. नेपाल (Nepal)  के पोखरा (Pokhra) में रविवार सुबह एक यात्री विमान दुर्घटनागस्त हो गया है। नेपाल उड्डयन प्राधिकरण के अधिकारी ने बताया कि 72 सीटों वाले इस विमान से अब तक 68 शव बरामद हुए हैं। सेना के एक प्रवक्ता ने बताया कि नेपाल में 30 सालों से अधिक समय के बाद इतना भीषण हादसा हुआ है। कृष्णा भंडारी ने समाचार एजेंसी रायटर को बताया कि बचाव दल मौके पर मौजूद है और भी शव मिलने की उम्मीद है।

विमान में सवार थे इन देशों के नागरिक

बता दें कि नेपाल के पोखरा हवाई अड्डे पर हादसे का शिकार हुए विमान में 53 नेपाली नागरिक, 5 भारतीय, 4 रूसी, एक आयरिश, 2 कोरियाई, एक अर्जेंटीना और एक फ्रांसीसी नागरिक सवार थे।

विमान ने रविवार सुबह भरी थी उड़ान

येती एयरलाइंस के एटीआर 72 विमान ने रविवार सुबह काठमांडू से पोखरा के लिए उड़ान भरी थी, लेकिन विमान कास्की जिले के पोखरा में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। दुर्घटना के बाद बचाव कार्य जारी है। इसी कारण से एयरपोर्ट को फिलहाल बंद कर दिया गया। हादसे के वक्त येती एयरलाइंस के इस प्लेन में 68 यात्री और चार क्रू सदस्य सवार थे।

विमान में सवार थे 72 लोग

एयरलाइन के प्रवक्ता सुदर्शन बरतौला ने कहा कि नेपाल की येति एयरलाइंस द्वारा संचालित एटीआर-72 विमान में 72 लोग सवार थे, जिनमें दो शिशु भी शामिल हैं। इसके अलावा चालक दल के चार सदस्य और 10 विदेशी नागरिक भी विमान में शामिल हैं। उन्होंने बताया कि अभी तक विदेशी नागरिकों के बारे में जानकारी नहीं मिल पाई है। हम इसका पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं और सैकड़ों बचावकर्मी दुर्घटनास्थल की छानबीन कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि 1992 के बाद से नेपाल में यह सबसे घातक दुर्घटना है।

भारतीय राजदूत ने जताया दुख

वहीं, भारत में नेपाल के राजदूत ने विमान हादसे पर दुख जताया। उन्होंने कहा कि पोखरा में कुछ भारतीयों सहित 72 लोगों और चालक दल के सदस्यों को ले जा रहे एक विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने से गहरा दुख हुआ है। हम मृतकों के परिवारों के प्रति हार्दिक संवेदना व्यक्त करते हैं। हमारे विचार और प्रार्थना इस त्रासदी से प्रभावित सभी लोगों के साथ हैं

विमान से धुआं उठता हुआ दे रहा दिखाई

काठमांडू पोस्ट को येति एयरलाइंस के प्रवक्ता सुदर्शन बरतौला ने बताया कि येति (Yeti) एयरलाइंस के विमान में कुल 68 यात्री और चालक दल के चार सदस्य सवार थे। विमान पुराने हवाई अड्डे और पोखरा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के बीच दुर्घटनाग्रस्त हुआ है। घटना से जुड़े कुछ वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं, जिनमें जलते हुए विमान से धुआं उठता हुआ दिखाई दे रहा है। बता दें कि ये प्लेन पुराने एयरपोर्ट और पोखरा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के बीच क्रैश हुआ है। फिलहाल इस मामले में अधिक जानकारी की प्रतिक्षा है।

नेपाल सरकार ने बुलाई आपात बैठक

बता दें कि ये प्लेन पुराने एयरपोर्ट और पोखरा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के बीच क्रैश हुआ है। इस बीच पोखरा हवाई अड्डे पर यात्री विमान दुर्घटना के बाद नेपाल सरकार ने कैबिनेट की आपात बैठक बुलाई है। वहीं, नेपाल सचिवालय ने बताया कि नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल और गृह मंत्री रबी लामिछाने की पोखरा यात्रा रद्द हो गई है। साथ ही हादसे के कारणों की जांच के लिए पांच सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया है।

 

68 bodies recovered from Yeti Airlines crash site so far

Rescuers have so far recovered 68 bodies from a Yeti Airlines crash site in Pokhara of Kaski district in western Nepal.

The Rescue Co-ordination Centre of the Tribhuvan International Airport informed that so far 68 bodies have been recovered from the crash site and search for the remaining four is underway.

According to Kaski Police Chief Superintendent Ajay KC, the bodies of 64 victims have been taken to the Pokhara Academy of Health Sciences in the city.

Prof Dr Bharat Bahadur Khatri, Director at the academy, informed that as of 4:15pm, the academy has received the dead bodies of 64 crash victims.

“Procedure to identify the victims is underway,” Khatri said.

An ATR 72 aircraft of Yeti Airlines with registration number 9N-ANC that took off for Pokhara from Kathmandu at 10:30am crashed at Nayagaun.

A total of 68 passengers and four crew members were on board the aircraft that crashed between the old airport and the Pokhara International Airport, Sudarshan Bartaula, spokesperson of Yeti Airlines, told the Post.

Among the passengers are three infants, three children and 62 adults. According to the Civil Aviation Authority of Nepal (CAAN), the passengers included 53 Nepalis, five Indians, four Russians, one Irish, one Australian, one Argentinian, two Koreans and one French.

Meanwhile, an emergency meeting of the Cabinet held on Sunday, following the accident, has announced a public holiday to mark a national day of mourning for the loss of lives in the crash.

Prime Minister Pushpa Kamal Dahal had called an emergency meeting of the Council of Ministers.

The Cabinet meeting has formed a five-member probe committee under Nagendra Ghimire, former secretary at the Ministry of Culture, Tourism and Civil Aviation, to investigate the accident.

Likewise, the government has also directed that every domestic airline’s aircraft undergo rigorous inspections before taking a flight.

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे
Donate Now
               
हमारे  नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट , और सभी खबरें डाउनलोड करें
डाउनलोड करें

जवाब जरूर दे 

केंद्र सरकार के कामकाज से क्या आप सहमत हैं

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129