♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

राजस्थान में अवैध खनन के खिलाफ प्रशासन ने बदली रणनीति, बडी मशीनों की जब्ती, एफआईआर व गिरफ्तारी पर जोर, करीब 180 से अधिक बड़ी व अन्य मशीनें जब्त, 141 से अधिक गिरफ्तारी

Jaipur. अतिरिक्त मुख्य सचिव माइंस, पेट्रोलियम एवं पीएचईडी डॉ. सुबोध अग्रवाल ने कहा है कि मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत के निर्देश पर अवैध खनन गतिविधियों के खिलाफ 11 जुलाई से चलाए जा रहे संयुक्त अभियान में विभाग ने कार्यवाही की रणनीति बदलते हुए बड़ी मशीनों की जब्ती और अवैध खनन गतिविधियों में लिप्त लोगों की गिरफ्तारी पर जोर दिया है। उन्होंने बताया कि 21 जुलाई से अब तक प्रदेश में करीब 100 एचईएमएम मशीनों सहित 185 से अधिक मशीनरी जब्त की जा चुकी हैं  खनिजों के अवैध परिवहन में लिप्त 2100 से अधिक वाहनों को जब्त किया जा चुका है। प्रदेश में इस अवधि में 360 से अधिक एफआईआर व 141 से अधिक लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। माइंस एवं पुलिस विभाग द्वारा परस्पर समन्वय से प्रदेशभर में अवैध खनन गतिविधियों के खिलाफ कार्यवाही जारी है। बाड़मेर, पाली, जोधपुर, भीलवाड़ा व टोंक में विशेष् रूप से निगरानी के निर्देश दिए गए हैं।
एसीएस डॉ. अग्रवाल ने बताया कि 10 जुलाई को आयोजित स्टोनमार्ट के अवसर पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश में अवैध खनन गतिविधियों के खिलाफ की जा रही कार्यवाही की चर्चा करते हुए जीरो टोलरेंस की बात कही थी। अगले दिन से ही विभाग ने अवैध खनन गतिविधियों के विरूद्ध कार्यवाही में तेजी लाने के निर्देश देने की साथ ही प्रदेशभर में बड़ी कार्यवाहियां की है। उन्होंने बताया कि खनन गतिविधियों में लिप्त बड़ी मशीनरी की जब्ती से विभाग सख्त संदेश देना चाहता है ताकि अवैध गतिविधियों में लिप्त लोगों में भय व्याप्त हो सके।
निदेशक माइंस संदेश नायक द्वारा मुख्यालय स्तर पर मॉनिटरिंग व्यवस्था को और अधिक सख्त किया गया है जिससे अवैध गतिविधियों पर कार्यवाही और मुख्यालय स्तर से समय पर निर्देश मिलने लगे हैं। उन्होंने बताया कि मशीनरी की जब्ती के साथ ही रास्तों में अवरोध भी किए जा रहे हैं ताकि अवैध खनन को निरूत्साहित किया जा सके।
अभियान के दौरान जयपुर जोन में अतिरिक्त निदेशक बीएस सोढ़ा, जोधपुर व उदयपुर जोन में महेश माथुर और कोटा में महावीर मीणा के मार्गदर्शन में  अभियान संचालित किया गया। मुख्यालय स्तर पर योगेन्द्र सिंह सहवाल कोआर्डिनेट कर रहे हैं।
जयपुर जोन में बीएस सोढ़ा के मार्गदर्शन में जयपुर वृत के एसएमई प्रताप मीणा के नेतृत्व में जयपुर, अलवर, सीकर, झुन्झुनूं, दौसा व जय गुरूबख्सानी के नेतृत्व में  टोंक, अजमेर, नागौर सहित जयपुर जोन में 938 कार्यवाही करते हुए 36 कंप्रेसर, पोकलेन मशीन सहित 935 वाहन जब्त किए गए हैं। जयपुर में सर्वाधिक जुर्माना वसूला गया है। एसएमई प्रताप मीणा के नेतृत्व में एमई जयपुर कृष्ण शर्मा,  पुष्पेन्द्र मीणा, नीम का थाना में अमीचन्द, अलवर में राजेन्द्र चौधरी द्वारा उल्लेखनीय कार्यवाही की गई है। अजमेर एसएमई श्री जय गुरूबख्सानी के नेतृत्व में अजमेर व नागौर में सहदेव सारण, ब्यावर श्याम कापड़र द्वारा प्रभावी कार्यवाही की गई है।
जोधपुर व उदयपुर में अतिरिक्त निदेशक महेश माथुर के मार्गदर्शन में कार्यवाही की गई। एसएमई जोधपुर डॉ. धर्मेन्द्र लोहार के नेतृत्व में एमई श्री प्रवीण अग्रवाल व अन्य तथा बीकानेर वृत में भीमसिंह के नेतृत्व में कार्यवाही की गई। अतिरिक्त निदेशक महेश  माथुर के मार्गदर्शन में पिछले दिनों बालेसर में एक दिन में 39 वाहनों व मशीनरी की जब्ती की गई। बाडमेर टीम द्वारा रविवार सुबह दो वाहन बजरी का अवैध परिवहन करते हुए जब्त किए हैं। हनुमानगढ़ के पूर्वासर में जिप्सम का अवैध परिवहन करते हुए व बीकानेर में ग्रेवल का अवैध परिवहन करते हुए वाहन पकड़ा गया। हनुमानगढ़ में ही खातेदार पर कार्यवाही के साथ ही जुर्माना वसूला गया है। एमई जोधपुर प्रवीण अग्रवाल ने बताया कि कुडी में 3 डंपर जब्त कर पुलिस को सौंपे गए हैं।
उदयपुर जोन में महेश माथुर के मार्गदर्शन में एसएमई राजसमंद ओपी काबरा के नेतृत्व में पूरण मल सिंगारिया,  अंसारी, एसएमई उदयपुर एनके वैरवा और एसएमई भीलवाडा कमलेश बारेगामा के नेतृत्व में कार्यवाही को अंजाम दिया गया। भीलवाड़ा में एमई जिनेश हुमड़ द्वारा उल्लेखनीय कार्यवाही की गई है। एसएमई ओपी काबरा के अनुसार रविवार को कार्यवाही करते हुए रेलमगरा राजसमंद में दो वाहन जब्त किए गए हैं।
अतिरिक्त निदेशक कोटा महावीर मीणा के मार्गदर्षन में एसएमई अविनाश कुलदीप, एमई आरएन मंगल आदि के नेतृत्व में वाहन जब्ती के साथ ही जुर्माना वसूला गया है।
उल्लेखनीय है कि जुलाई से जारी अभियान के तहत अब तक खान व पुलिस विभाग की संयुक्त कार्यवाही में 18 करोड़ रूपये से अधिक की वसूली, 141 लोगों की गिरफ्तारी, 360 एफआईआर व 2500 से अधिक कार्यवाही की जा चुकी है।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे
Donate Now
               
हमारे  नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट , और सभी खबरें डाउनलोड करें
डाउनलोड करें

जवाब जरूर दे 

केंद्र सरकार के कामकाज से क्या आप सहमत हैं

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129