♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

अलवर के साहोड़ी गांव के सरकारी स्कूल में डिजिटल लाइब्रेरी एवं रिसोर्स सेंटर का उदघाटन

ट्रांसफॉर्म लाइव्स कार्यक्रम” के तहत साहोड़ी के सरकारी स्कूल में “ट्रीज फॉर लाइफ” संस्था के सहयोग से बनाई गई है  “एड्डा सहगल डिजिटल लाइब्रेरी एवं रिसोर्स सेंटर”

NCR Times Bhiwadi. एस एम सहगल फाउंडेशन की ओर से “ट्रांसफॉर्म लाइव्स कार्यक्रम” (वन स्कूल एट ए टाइम) के तहत राजस्थान (अलवर जिले) के साहोड़ी गांव के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में “ट्रीज फॉर लाइफ” (Trees for Life) संस्था के सहयोग से “एड्डा सहगल डिजिटल लाइब्रेरी एवं रिसोर्स सेंटर” का उदघाटन देवल शाह और डॉ योगेश शाह ने किया। इससे पूर्व सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री टीका राम जूली ने जय सहगल व शाह फैमिली का स्वागत किया और अलवर जिले में सहगल फाउंडेशन द्वारा कराए जा रहे कार्यों के लिए धन्यवाद दिया।

डिजिटल लाइब्रेरी से बच्चों को मिलेगी नवीनतम जानकारी

डिजिटल लाईब्रेरी का उदघाटन करते अतिथि।

साहोड़ी गांव के इस सरकारी स्कूल में “एड्डा सहगल डिजिटल लाइब्रेरी एवं रिसोर्स सेंटर” शुरू होने से इस स्कूल के बच्चों और आसपास के बच्चों को लाभ होगा। इससे बच्चों को गांव स्तर पर ही नई – नई जानकारियां हासिल होंगी और उनके ज्ञान में बढ़ोतरी होगी। डिजिटल लाइब्रेरी के अलावा स्कूल में नवीनीकरण का भी कार्य हुआ है जिसके तहत स्कूल में रूफ वाटर हार्वेस्टिंग तकनीक के साथ पानी भंडारण के लिए टैंकों का निर्माण, लड़कियों और लड़कों के लिए अलग-अलग शौचालयों की व्यवस्था और उनकी मरम्मत, बच्चों के लिए पीने के पानी की सुविधा, कमरों की मरम्मत, रंग-रोगन आदि करवाया गया है। इसके अलावा स्कूल सौंदर्यीकरण के तहत स्कूल की इमारत की सफेदी और दीवारों पर शैक्षिक संदेश बच्चों को प्रोत्साहित करने के लिए स्कूल परिसर में लिखे गए हैं।

एसएमसी सदस्यों को बताई उनकी भूमिका

सहगल फाउंडेशन ने स्कूल प्रबंधन समिति (एस एम सी) के सदस्यों को इसके लिए विशेष रूप से प्रशिक्षित किया ताकि जो कार्य स्कूल में किये गये हैं उनकी ठीक से देख-भाल हो सके और जो व्यवस्था बनाई गयी है वह लम्बे समय तक बनी रहे। एस एम सी के सदस्यों को उनकी भूमिका और जिम्मेदारियों के बारे में जानकारी दी गई ताकि वह प्रभावी रूप से बच्चों की शिक्षा में योगदान दे सकें। कार्यक्रम में एस एम सहगल फाउंडेशन के ट्रस्टी जय सहगल ने स्कूल प्रशासन, स्थानीय समुदाय और बच्चों के अभिभावकों को धन्यवाद दिया और कहा कि उनके सहयोग से ही स्कूलों का नवीनीकरण संभव हो सका तथा डिजिटल लाइब्रेरी एवं रिसोर्स सेंटर बन पाया है।

शिक्षा की गुणवत्ता को बढ़ाना सभी की जिम्मेदारी

उदघाटन समारोह में बच्चों की हौसला अफजाई करने के लिए अमेरिका से आए मेहमान देवल शाह और डॉ योगेश शाह ने कहा कि “शिक्षा की गुणवत्ता को बढ़ावा देना हम सब की जिम्मेदारी क्योकि आज के बच्चे ही कल के भारत का भविष्य है। हमें बच्चों को पढ़ने के लिए उचित वातावरण देना चाहिए ताकि उनका पढ़ाई में मन लगे। डिजिटल लाइब्रेरी एवं रिसोर्स सेंटर शुरू होने से स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को नई –नई जानकारियाँ प्राप्त होगी जो उनके उज्जवल भविष्य निर्माण में सहयोग देगी”। स्कूल नवीनीकरण से स्कूल में सुरक्षित एवं समुचित माहौल को देखकर ग्रामीणवासियों में एक नयी उमंग एवं उत्साह देखने को मिला है। इससे अधिक से अधिक बच्चे नामांकित होंगें व शिक्षा का लाभ उठाएंगे। इस अवसर पर प्रधानचार्य किरण, अनसब खान तथा ग्रामीणो ने मेहमानों का स्वागत किया।

ऐप गुरु इमरान खान तथा इंजीनियर राजेश लवानिया ने किया बच्चों का उत्साहवर्धन

कस्बा डेहरा के सरकारी स्कूल में कराये गए नवीनीकरण कार्य को भी देखा, जिसे शाह फैमिली के सहयोग से संपन्न किया गया था। उन्होने ग्रामीणों और बच्चों से बात की तथा अपने विचार सांझा किये।। मेहमानों का स्वागत प्रधानाचार्य विजयभान शर्मा एवं समस्त स्टाफ ने किया शिक्षक मूलचन्द गुर्जर और अभय सिंह यादव ने साफा पहनाकर सम्मान दिया। एप गुरु इमरान खान तथा राजेश लवानिया ने बच्चों का उत्साहवर्धन किया।

 

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे
Donate Now
               
हमारे  नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट , और सभी खबरें डाउनलोड करें
डाउनलोड करें

जवाब जरूर दे 

केंद्र सरकार के कामकाज से क्या आप सहमत हैं

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129