♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

हीरो इलेक्ट्रिक भिवाड़ी में करेगी 1240 करोड़ का निवेश, चार हजार लोगों को मिलेगा रोजगार, सालाना 15 से 20 लाख वाहन बनाने की होगी क्षमता

NCR Times Business Desk। देश की प्रमुख इलेक्ट्रिक दुपहिया वाहन निर्माता कम्पनी हीरो इलेक्ट्रिक व्हीकल्स प्राइवेट लिमिटेड ने भिवाड़ी में 15 से 20 लाख वाहन प्रतिवर्ष निर्माण की क्षमता वाली मेन्यूफेक्चरिंग यूनिट खोलने का प्रस्ताव राज्य सरकार को दिया है। हीरो इलेक्ट्रिक तकरीबन एक हजार 240 करोड़ का निवेश करेगी और इस इकाई की स्थापना से 4 हजार से अधिक लोगों को रोजगार के अवसर मिलेंगे। यहां बता दें कि भिवाड़ी के खुशखेड़ा व कारोली औद्योगिक क्षेत्र में इलेक्ट्रिक व्हीकल जोन बनाया गया है और यहां पर पहले से ही ओकिनावा कंपनी इलेक्ट्रिक स्कूटर बना रही है। राजस्थान सरकार भी इलेक्ट्रिक व्हीकल को बढ़ावा देने के लिए कारगर प्रयास कर रही है, जिससे अधिक से अधिक लोग जागरुक हो सकें।

स्टेट एम्पावर्ड कमेटी की बैठक में 7 कंपनियों ने दिया 4200 करोड़ से अधिक के निवेश प्रस्ताव

राजस्थान की मुख्य सचिव उषा शर्मा की अध्यक्षता में हुई स्टेट एम्पॉवर्ड कमेटी की 39वीं बैठक में कस्टमाइज्ड पैकेज के लिए 4200 करोड़ से अधिक रुपए के निवेश प्रस्तावों पर चर्चा की गई। राजस्थानमें अपनी निर्माण इकाई स्थापित करने के लिए सीमेन्ट, टेक्सटाइल, इलेक्ट्रिक व्हीकल, बेवरेजेस और टूरिज्म क्षेत्र की सात कम्पनियों ने अपने निवेश प्रस्ताव रखे। समिति द्वारा इन प्रस्तावों को राजस्थान निवेश प्रोत्साहन योजना -2019 के तहत दिये जाने वाले इन्सेन्टिव के अतिरिक्त विशेष निवेश पैकेज देने की अनुशंसा की गई।

इन कंपनियों ने दिया निवेश का प्रस्ताव

बैठक में वण्डर सीमेन्ट लिमिटेड ने जैसलमेर में 1 हजार 800 करोड़ के निवेश से इन्टीग्रेटेड सीमेन्ट प्लान्ट शुरू करने का निवेश प्रस्ताव दिया। बोतल बंद पेय बनाने वाली कम्पनी वरुण बेवरेजेस द्वारा लगभग 636 करोड़ के निवेश से बूंदी जिले में कार्बाेनेटेड पेय तथा जूस आधारित पेय बनाने के लिए उद्योग लगाने का प्रस्ताव दिया गया। कम्पनी के देश भर में 31 प्लान्ट हैं। देश की प्रमुख इलेक्ट्रिक दो पहिया वाहन निर्माता कम्पनी हीरो इलेक्ट्रिक व्हीकल्स प्राइवेट लिमिटेड ने भिवाड़ी में 15 से 20 लाख वाहन प्रतिवर्ष निर्माण की क्षमता वाली मेन्यूफेक्चरिंग यूनिट खोलने का प्रस्ताव राज्य सरकार को दिया, जिसमें तकरीबन एक हजार 240 करोड़ का निवेश होगा। इस इकाई की स्थापना से 4 हजार से अधिक लोगों को रोजगार के अवसर मिलेंगे।
इसी प्रकार एलिसियान होटल्स प्राइवेट लिमिटेड द्वारा उदयपुर में 154 करोड़ के निवेश से पांच सितारा सुविधा युक्त रिसोर्ट खोलने का प्रस्ताव दिया गया । इशिका रिसोर्ट्स एण्ड हॉस्पिटेलिटी ने सवाई माधोपुर में 105 करोड़ के निवेश से लक्जरी रिसोर्ट शुरू करने का प्रस्ताव दिया। संगम वेंचर्स लिमिटेड द्वारा 157 करोड का निवेश कर वस्त्र निर्माण के लिए भीलवाड़ा में निर्माण इकाई लगाने के लिए प्रस्ताव दिया गया। मनोेनय टेक्स इंडिया लिमिटेड भीलवाड़ा में डेनिम और कॉटन मैन्यूफेक्चरिंग यूनिट स्थापित कर चुकी है। कम्पनी का इस वर्ष टर्न ओवर लगभग साढ़े तीन सौ करोड़ रहा है। कम्पनी द्वारा सरकार की मौजूदा नीतियों से आकर्षित होकर अपने कार्य का प्रसार करने के लिए 172 करोड़ से अधिक का निवेश प्रस्ताव दिया है तथा कस्टमाइज्ड पैकेज के तहत राज्य सरकार से रियायतों की सिफारिश की है।
बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव, उद्योग वीनू गुप्ता, प्रमुख शासन सचिव, वित्त अखिल अरोरा, आयुक्त, निवेश संवर्धन ब्यूरो ओम कसेरा उपस्थित थे। अन्य संबंधित अधिकारियों ने वीसी के माध्यम से बैठक में हिस्सा लिया।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे
Donate Now
               
हमारे  नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट , और सभी खबरें डाउनलोड करें
डाउनलोड करें

जवाब जरूर दे 

केंद्र सरकार के कामकाज से क्या आप सहमत हैं

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129